Opinion
अशोक श्रीवास्तव का पत्र स्वरा भास्कर के नाम !
अशोक श्रीवास्तव का पत्र स्वरा भास्कर के नाम !

आपने एक बार भी इन नारों के ख़िलाफ़ नहीं बोला, बल्कि बड़ी आसानी से कह दिया कि “इडियट्स ने रायता फैला दिया”! स्वरा जी, ये रायता नहीं ये ज़हर फैलाया जा रहा है